पिडिलाईट ने फेविक्रिएट आइडिया लैब्स 2024 फिनाले के विजेताओं की घोषणा की  

 



मुंबई : पिडिलाईट ने फेविक्रिएट पहल के माध्यम से सालाना फेविक्रिएट आइडिया लैब्स आर्ट एण्ड क्राफ्ट प्रतियोगिता 2024 के विजेताओं की घोषणा की है। विज्ञान के साथ आर्ट एण्ड क्राफ्ट के संयोजन, इस राष्ट्रीय प्रतियोगिता में देश भर में 500 से अधिक स्कूलों से 1.3 लाख से अधिक छात्रों ने हिस्सा लिया तथा अंतरिक्ष अन्वेषण, लुप्तप्राय प्रजातियों एवं इनके संरक्षण तथा समुद्री जीवन पर महत्वपूर्ण परियोजनाएं प्रदर्शित कीं।
प्रतियोगिता के चौथे संस्करण में 16 फाइनलिस्ट्स को फाइनल राउण्ड के लिए मुंबई आमंत्रित किया गया था, जहां उन्होंने विभिन्न प्रकार के आर्ट एण्ड क्राफ्ट मटीरियल जैसे पिडिलाईट प्रोडक्ट्स से युक्त फेविक्रिएट बॉक्सेज़ का इस्तेमाल कर लाईव प्रतियोगिता की। प्रतियोगिता की थीम की बात करें तो 9-14 वर्ष के लिए इसका विषय था मरीन लाइफ और 5-8 वर्ष के लिए इसका विषय था सोलर सिस्टम फॉर एजेज़। परियोजनाओं का मूल्यांकन थीम को ध्यान में रखते हुए इनकी रचनात्मकता, सामग्री के आधुनिक इस्तेमाल, वैज्ञानिक सिद्धान्तों और प्रेज़ेन्टेशन के आधार पर किया गया। प्रतिष्ठित भारतीय अंतरिक्ष विज्ञानी एवं इसरो के पूर्व निदेशक पद्मश्री मिलस्वामी अन्नादुराई चीफ़ जूरी सदस्य रहे। पिडिलाईट में कन्ज़्यूमर प्रोडक्ट्स बिज़नेस के सीनियर वाईस प्रेज़ीडेन्ट कश्यप गाला भी जूरी सदस्यों में शामिल थे।  
5-8 वर्ष के विजेताओं यानि ‘लिटल साइंटिस्ट आयुवर्ग में शामिल थे- एमपीएस इंटरनेशनल, जयपुर, राजस्थान से हेतवी वासवानी और सेंट मार्क्स सीनियर सैकण्डरी पब्लिक स्कूल, दिल्ली से भानी गुप्ता, दोनों पहले स्थान पर रहे।  चैतन्या स्कूल, अमीरपेट, हैदराबाद से रामा अनन्या दूसरे स्थान पर रहे, वहीं डी.ए.वी. हाई स्कूल, अंबाला से देवांशी सहगल तीसरे स्थान पर रहीं। 9-14 वर्ष के विजेताओं यानि ‘यंग इनोवेटर्स’ आयुवर्ग में शामिल थे- सेंट जे़वियर्स हाई स्कूल, बिलासपुर, छत्तीसगढ़ से हर्षिता नोपानी पहले स्थान पर रहीं। डी.ए.वी. सेंटेनेरी पब्लिक स्कूल, वायज़ाग, आन्ध्र प्रदेश से कानिथी स्वाति दूसरे स्थान पर और नेशनल इंग्लिश स्कूल, कोलकाता, पश्चिम बंगाल से इफरा सिद्कि तीसरे स्थान पर रहे। 
फाइनल राउण्ड के एपिसोड्स का प्रसारण वायाकोम 18 नेटवर्क चैनलों, निकेलोडियॉन और सोनिक पर किया गया। दोबारा प्रसारण 15-16 जून को शाम 5ः30 से 6 बजे के बीच निक पर और 22 एवं 23 जून को शाम 6ः30 से 7ः00 बजे के बीच सोनिक पर किया जाएगा। ये 24 जून के बाद जियो सिनेमा पर भी उपलब्ध होंगे। 
फेविक्रिएट आइडिया लैब्स 2025 के लिए पंजीकरण जल्द खुल जाएंगे।
 मिलस्वामी अन्नादुराई, पूर्व निदेशक, इसरो ने कहा, ‘‘ फेविक्रिएट आइडिया लैब्स प्रतियोगिता के जूरी सदस्य के रूप में मैं प्रतिभाशाली बच्चों द्वारा दर्शाई गई रचनात्कता से बेहद प्रेरित हूं। ऐसे समय में जब शिक्षा विकसित हो रही है, ‘व्यवहारिक रूप से काम करते हुए सीखना’ स्टैम शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए ज़रूरी है। यह प्रतियोगिता दर्शाती है कि कैसे कला और विज्ञान एक साथ मिलकर इनोवेशन तथा समस्या को हल करने की उत्सुकता को बढ़ावा देते हैं। इन प्रतिभाशाली छात्रों द्वारा पेश की गई परियोजनाएं न सिर्फ प्रभावशाली हैं बल्कि व्यवहारिक लर्निंग की क्षमता को भी दर्शाती हैं। मैं सभी प्रतिभागियों और विजेताओं को उनके प्रयासों के लिए बधाई देता हूं और उन्हें निरंतर इनोवेट करने के लिए प्रोत्साहित करता हूं।’ 
कश्यप गाला, सीनियर वाईस प्रेज़ीडेन्ट, कन्ज़्यूमर प्रोडक्ट्स बिज़नेस, पिडिलाईट ने कहा, ‘‘फेविक्रिएट में हम ‘व्यवहारिक रूप से सीखते हुए करने’ की अवधारणा को सपोर्ट करते हैं। आज के प्रतिभाशाली छात्र सभी चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहते हैं और अध्यापक भी बच्चों को पढ़ाने के नए तरीके ढूंढते हैं। स्कूल के बोर्ड और एनईपी के निर्देश ‘कला से युक्त लर्निंग’ को बढ़ावा देते हैं, उनका मानना है कि आर्ट एण्ड क्राफ्ट के ज़रिए अधिक लर्निंग पर ज़ोर देना चाहिए। फेविक्रिएट इस दृष्टिकोण को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। 65 शहरों से 16 प्रतिभाशाली छात्रों को चुना गया।’
इस साझेदारी पर बात करते हुए अनु सिक्का, बिज़नेस हैड, किड्स टीवी नेटवर्क, वायाकोम 18 ने कहा, ‘‘किड्स एंटरटेनमेन्ट के बेहतरीन गंतव्य निक को फेविक्रिएट आइडिया लैब्स फिनाले इवेंट के लिए पिडिलाईट के साथ हाथ मिलाते हुए खुशी का अनुभव हो रहा है। निक की व्यापक पहुंच और किड्स एंटरटेनमेन्ट सेक्टर पर अपने प्रभाव के चलते यह पार्टनर ब्राण्ड्स के साथ साझेदारियों को बढ़ावा देता है। हम ऐसी साझेदारियों को बढ़ावा देते हैं जो रचनात्मकता को प्रोत्साहित करें। यह प्रतियोगिता आने वाले कल के लिए प्रतिभा को  बढ़ावा देने के समर्पण की पुष्टि करती है और पिडिलाईट को दर्शकों के समक्ष आधुनिक प्रोडक्ट्स पेश करने के लिए ऐसा मंच प्रदान करती है।’ 
पहले, दूसरे और तीसरे विजेता को क्रमशः 1 लाख, रु 75,000 और रु 50,000 के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। अतिरिक्त पुरसकारों में रनर-अप पुरस्कार, ट्रॉफियां, स्कूलों के लिए सर्टिफिकेट्स शामिल थे, 22 शहरी स्तर के विजेताओं सहित 200 से अधिक प्रतिभागियों के साथ टॉप छात्रों को स्पेशल हैम्पर दिए गए।

Previous Post Next Post

Recent Post

Features